हिमाचल हाईकोर्ट पहुंचा पटवारी भर्ती की लिखित परीक्षा का मामला

Dear Aspirants,

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में पटवारी (Patwari) के लिए 1194 पदों के लिए हाल ही में ली लिखित परीक्षा (Written Exam) का मामला हाईकोर्ट (Himachal High Court) पहुंच गया है. मामले में एग्जाम देने से वंचित रहे कुछ अभ्यर्थियों ने पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल विनय शर्मा के जरिये हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है. जल्द ही मामले की सुनवाई होगी.


17 नवंबर 2019 को हुई थी परीक्षाजानकारी के अनुसार, हिमाचल सरकार ने 17 नवंबर 2019 को प्रदेश भर में कई सेंटरों पर पटवारी भर्ती के लिए लिखित परीक्षा आयोजित करवाई थी. भर्ती के दौरान कांगड़ा और मंडी में कुछ सेंटरों पर बवाल हुआ था. यहां तक कि ओएमआर सीट भी फाड़ी गई थी. करीब 100 अभ्यर्थी परीक्षा नहीं दे पाए थे, क्योंकि इनके सेंटर्स के नामों में गड़बड़ी थी.




मामले को लेकर सीएम जयराम ठाकुर का बयान भी आया था और उन्होंने भर्ती पर रोक लगाने से इंकार कर दिया था. इस भर्ती के लिए तीन लाख 21 सौ 25 आवदेन आए थे. वहीं, मामले को लेकर राजस्व विभाग की ओर से आपत्तियां मांगी गई थी, जिसमें दो हजार आपत्तियां पहुंची है. अब अभ्यर्थियों ने प्रश्नपत्र देरी से देने, परीक्षा केंद्रों के नाम गलत देने और परीक्षा के आयोजन में कुप्रबंधन का आरोप लगाकर इस भर्ती के लिए ली गई लिखित परीक्षा को रद्द करने की मांग की है.



1194 पदों पर होनी है भर्ती
गौरतलब है कि जिला लाहौल-स्पीति को छोड़कर अन्य सभी 11 जिलों में पटवारियों के पद भरे जाएंगे. इनमें मोहाल के तहत 932 और सेटलमेंट में 262 पद भरे जाएंगे. हिमाचल में बिलासपुर में 31, चंबा में 68, हमीरपुर में 80, कांगड़ा 220, किन्नौर 19, कुल्लू में 42, मंडी 174, शिमला में 115 सिरमौर में 52 सोलन में 63, ऊना में 69 पटवारियों के पद भरे जाएंगे. कांगड़ा मंडल में 143 और शिमला मंडल में 119 पटवारियों के पद भर जाएंगे. इस भर्ती के लिए 3 लाख से अधिक आवदेन आए हैं.




हिमाचल हाईकोर्ट पहुंचा पटवारी भर्ती की लिखित परीक्षा का मामला हिमाचल हाईकोर्ट पहुंचा पटवारी भर्ती की लिखित परीक्षा का मामला Reviewed by RoHit ChauHan on November 25, 2019 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.